Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
मध्य प्रदेश के 8 प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों के एडमिशन में एकबारफिर उजागर हुआ प्रमाणित घोटाला

मध्य प्रदेश के 8 प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों के  एडमिशन में एकबारफिर उजागर हुआ प्रमाणित घोटाला 

 

भोपाल। मध्यप्रदेश के 8 प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन घोटाला प्रमाणित हो गया है। मेडीकल यूनिवर्सिटी ने अपनी जांच में कुल 179 सीटों पर फर्जीवाड़ा कर एडमिशन दिए जाने की पुष्टि की है। बता दें कि मध्यप्रदेश में इस तरह के गोरखधंधे में 1 सीट के लिए 1 करोड़ रुपए तक लिए जाने का खुलासा व्यापमं घोटाले के समय हुआ था। इस प्रकार यह कुल 179 करोड़ का घोटाला है। गौर करने वाली बात यह भी है कि इन कॉलेजों ने 179 ऐसे छात्रों को एडमिशन दे दिया जो डॉक्टर बनने के लायक ही नहीं थे। मामले की जांच कर विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ आरएस शर्मा ने सभी 179 दाखिलों के रिजल्ट रोकने और डीएमई को इनके दाखिले निरस्त करने की अनुशंसा की है। मामला एनआरआई कोटे में एडमिशन का है। इस कोटे में उन उम्मीदवारों को एडमिशन मिलता है जो अप्रवासी भारतीय हों। जांच में पाया गया कि एक भी स्टूडेंट एनआरआई नहीं था। बता दें कि ये सभी वो मेडिकल कॉलेज हैं जिनके पास या तो डायरेक्टर पॉलिटिकल कनेक्शन है या फिर किसी पॉलिटिकल पॉवर का संरक्षण हासिल है। जिन के बारे में पूरा देश जनता है ख़ास बात ये है कि इनमे से अधिकांश पहले से ही घोटाले के दागी है । मगर सरकार के लोग अपने हितलाभ जुड़े होने के कारण अपराध की व्याख्या भी अपने हिसाब से करते है अपराध में परोक्ष रूप से संदिग्ध है । 
मध्य प्रदेश के भ्रष्टाचार के कॉलेज जिनका  हुआ ए​डमिशन में जानबूझकर फर्जीवाड़ा

भोपाल के एडवांस इंस्टीटयूट आॅफ मेडीकल साइंस में 22एनआरआई सीट, 

देवास के अमलताल मेडीकल काॅलेज में 21 एनआरआई सीट, 

चिरायु मेडीकल काॅलेज भोपाल की 23 एनआरआई सीट,

माॅर्डन इंस्टीटयूट आॅफ मेडीकल साइंस काॅलेज की 23 एनआरआई सीट, 

आरडी गाॅर्डी मेडीकल काॅलेज उज्जैन की 19 एनआरआई सीट, 

साक्षी मेडीकल काॅलेज गुना की 25 एनआरआई सीट, 

श्री अरविंदो मेडीकल काॅलेज इंदौर की 23 एनआरआई सीट 

और सुखसागर मेडीकल काॅलेज जबलपुर की 23 एनआरआई सीट्स शामिल हैं.


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy