Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
दाऊद के भाई को 13 अक्तूबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया

दाऊद के भाई को 13 अक्तूबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया

मुंबई। ठाणे की एक अदालत ने जबरन वसूली के एक मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के छोटे भाई इकबाल कासकर और दो अन्य आरोपियों को 13 अक्तूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। कासकर को अवकाशकालीन अदालत में पेश किया गया, जिसने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया। ठाणे पुलिस की अपराध शाखा ने 18 सितंबर को कासकर को गिरफ्तार किया था।

‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ और जबरन वसूली निरोधक शाखा के वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा की अगुवाई वाली एक टीम ने मध्य मुंबई के नागपाड़ा इलाके के एक मकान से कासकर को अपने हिरासत में लिया था। साल 2013 से ही जबरन वसूली की धमकियों का सामना कर रहे एक बिल्डर ने कासकर के खिलाफ शिकायत दाखिल की थी।
    कासकर पर आरोप है कि वह दाऊद इब्राहिम के नाम पर धमकियां देकर कारोबारियों से मोटी रकम की मांग करता था। कसरवडावली पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 384, 386 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया था। साल 2003 में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से वापस भेज दिए गए कासकर के बारे में कहा जाता है कि वह शहर में अपने भाई का रियल एस्टेट कारोबार संभालता था।

Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy