Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
सीमा सुरक्षा बल में गजेटेड अफसरों के 36% पद खाली

गृह मंत्रालय, भारत सरकार के उप सचिव आरबीएस नेगी द्वारा एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर को आरटीआई में प्रदत्त सूचना के अनुसार भारत-नेपाल तथा भारत-भूटान सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) में गजेटेड अफसरों की 36% रिक्ति है, जहाँ 2215 गजेटेड अफसरों की निर्धारित संख्या में 815 पद खाली हैं. भारत-चीन सीमा पर तैनात भारत-तिब्बत बॉर्डर पुलिस (आईटीबीपी) में 2094 गजेटेड अफसरों की निर्धारित संख्या में 573 पद (27%) खाली हैं.

एसएसबी, आईटीबीपी, बीएसएफ, सीआईएसएफ, सीआरपीएफ तथा असम राइफल की 06 केन्द्रीय सुरक्षा बलों में गजेटेड अफसरों की कुल 17967 निर्धारित संख्या में 2892 पद (16%), रिक्त हैं, जिसमे सबसे अच्छी स्थिति सीआरपीएफ की है जहाँ 5513 गजेटेड अफसरों के पद में 485 पद (8%) खाली हैं. 

इनकी तुलना में केंद्रीय सुरक्षा बलों में अधीनस्थ अधिकारी (एसओ) तथा सिपाहियों की स्थिति बेहतर है. 961580 एसओ तथा सिपाहियों की कुल संख्या में 61368 पद खाली हैं, जो कुल पद का 6% है. यहाँ भी सर्वाधिक बुरी स्थिति एसएसबी की है जहाँ 96643 एसओ तथा सिपाहियों की कुल संख्या में 20581 पद (21%) रिक्त हैं. सीआरपीएफ की स्थिति सबसे अच्छी है जहाँ 312882 एसओ तथा सिपाहियों की कुल संख्या में मात्र 13276 पद (4%) रिक्त हैं.


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy