Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
4जी स्पीड के मामले में भारत का हाल पाकिस्तान से भी बुरा

4जी स्पीड के मामले में भारत का हाल पाकिस्तान से भी बुरा

डिजिटल इंडिया के बड़े-बड़े दावों के बीच एक खबर यह भी है कि भारत में 4जी नेटवर्क की औसत स्पीड विश्व औसत के एक तिहाई से भी कम है. ब्रिटेन की वायरलेस कवरेज मैपिंग कंपनी ‘ओपन सिग्नल’ की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है. ‘स्टेट ऑफ एलटीई’ नाम की इस रिपोर्ट के मुताबिक 4जी उपलब्धता के मामले में दक्षिण कोरिया दुनिया का नंबर एक देश है. वहीं स्पीड के मामले में सिंगापुर सबसे अव्वल है. 4जी नेटवर्क की उपलब्धता के मामले में भारत की रैंकिंग सुधरकर 15 हो गई है लेकिन डाउनलोड स्पीड के लिहाज से उसका प्रदर्शन बहुत खराब है. 75 देशों में उसका 74वां नंबर है और वह पाकिस्तान और श्रीलंका से भी नीचे है. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में 4जी नेटवर्क की उपलब्धता में बीते कुछ समय के दौरान काफी सुधार हुआ है. 2016 के जुलाई से सितंबर के बीच देश में 4जी की उपलब्धता केवल 72 प्रतिशत थी, जो 2017 की पहली तिमाही में 82 प्रतिशत हो गई. जानकारों के अनुसार ऐसा रिलायंस जियो की मुफ्त इंटरनेट सेवा के चलते हुआ है. लेकिन 4जी डाउनलोड स्पीड के मामले में भारत का प्रदर्शन बहुत खराब रहा है. रिपोर्ट के अनुसार भारत में 4जी डाउनलोड की औसत स्पीड 5.1 मेगाबाइट प्रति सेकेंड (एमबीपीएस) है जो 4जी की वैश्विक औसत स्पीड 17.4 एमबीपीएस के एक तिहाई से भी कम है. भारत में 4जी की यह स्पीड 3जी की वैश्विक औसत स्पीड 4.4 एमबीपीएस से थोड़ा ही ज्यादा है.

इस रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि पिछले छह महीने के दौरान भारत में 4जी के कवरेज में भले ही इजाफा हुआ है लेकिन इसकी गति में लगभग एक एमबीपीएस की कमी आई है. ऐसा नेटवर्क पर उपभोक्ताओं का बोझ बढ़ने के चलते हुआ है.


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy