Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
अखिलेश के चुनावी वादे, यूपी की जनता पर मुफ्त सौगातों की बरसात

अखिलेश के चुनावी वादे, यूपी की जनता पर मुफ्त सौगातों की बरसात

कुनबे में मचे घमासान के बाद समाजवादी पार्टी ने आज लखनऊ में अपना घोषणापत्र जारी किया. यूपी के सीएम और एसपी अध्यक्ष अखिलेश ने घोषणापत्र जारी किया. खास बात ये है कि मुलायम सिंह और शिवपाल यहां नहीं पहुंचे.  मंच पर अखिलेश के साथ  मौजूद आज़म खान मुलायम को मनाने उनके घर भी पहुंचे. लेकिन वह नहीं आए और अखिलेश ने उनकी गैरमौजूदगी में ही घोषणापत्र को पढ़ा.

अखिलेश ने अपने भाषण में पहले एसपी सरकार के काम गिनाए फिर मोदी सरकार और बहुजन समाज पार्टी को निशाने पर लिया. उन्होंने बीएसपी सरकार को पत्थर वाली सरकार करार दिया. इसके बाद अखिलेश ने घोषणापत्र जारी करते हुए यूपी की जनता के लिए मुफ्त सौगातों की बरसात कर दी.

एसपी का घोषणापत्र , क्या-क्या कहा 

-छात्रों को स्मार्टफोन देने का काम जारी रहेगा.

-लोहिया आवास योजना को बढ़ाने का काम करेंगे

-लैपटॉप, कन्याधन जैसी योजनाओं को मजबूती से लागू करेंगे

-1 करोड़ लोगों को 1000 रुपये की मासिक पेंशन देेंगे

-लोहिया पेंशन सीधे अकाउंट में आएगी

-समाजवादी किसान कोष बनाएंगे

-गरीबों को मुफ्त चावल-गेहूं दिया जाएगा

-गरीब महिलाओं को प्रेशर कुकर देंगे ताकि खाना बनाने में कम वक्त लगे

-अल्पसख्यकों को प्रशिक्षण देने के लिए कौशल विकास योजना

-वरिष्ठ नागरिकों के लिए ओल्ड एज होम

-कामकाजी महिलाओं को हॉस्टल

-मजदूरों को रियायती दर पर मिड डे मिल

-गरीबों के मुफ्त इलाज की व्यवस्था करेंगे

-रोडवेज में महिलाओं को किराये में आधी छूट

-आगरा, कानपुर, मेरठ में भी  मेट्रो परियोजना लाएंगे

-जानवरों की बीमारी के लिए एंबुलेंस सेवा

-चौकीदारों-होमगार्ड्स के मानदेय में बढ़ोतरी करेंगे

- प्राथमिक स्कूल के छात्रों को मुफ्त एक किलो घी, एक लीटर दूध पाउडर मिलेगा

-जिला मुख्यालय को फोरलेन से जोड़ेंगे

-जहां अभी 16 से 18 घंटे बिजली दे रहे हैं वहां 24 घंटे बिजली

घोषणापत्र जारी करने से पहले अखिलेश ने मोदी सरकार और बहुजन समाज पार्टी पर खूब तंज कसे.

अच्छे दिन ढूंढ़ रही जनता 

हम सब मिलकर समाजवादी सरकार बनाना चाहते हैं. पांच महीने आप काम कर लो तो आपको पांच साल की सरकार मिलेगी. अब बहुत कम समय बचा है. आपके पास बताने को बहुत कुछ है. बड़े पैमाने पर काम हुआ है, इससे भी ज्यादा काम करना है. इससे हमारी अर्थव्यवस्था मजबूत होगी. समाजवादी सरकार ने बहुत काम किया है. मेट्रो बनाई है, एक्सप्रेस वे बनाया. जनता जानती है कि कौन गरीबों-अल्पसंख्यकों का शुभचिंतक है. जिन्होंने अच्छे दिन, सबका साथ-सबका विकास का नारा दिया, तीन साल हो गए, देश की जनता अच्छे दिन ढूंढ़ रही है. विकास के नाम पर झाड़ू दे दी.

मुसलमान भाइयों का शुभचिंतक  कौन?

जो बात घोषणापत्र में नहीं थी हमने वो भी करके दिखाया है. ऐसे ही काम करने कि आदत है सपाइयों की. नेता जी के आशीर्वाद से मुझे सबसे कम उम्र में सीएम बनने का सौभाग्य मिला. 5 साल तक संतुलित विकास करने का काम किया है. शहरों के साथ गांवों में भी विकास का काम किया है. सपा जानती है कि किसानों का, गरीबों का, मुसलमान भाइयों का शुभचिंतक कौन है. यूपी का चुनाव आ रहा है तो हो सकता है कि बजट में कुछ नया दे दें.

साइकिल दबाने पर हो जाएंगे मजबूर

108 और 102 एंबुलेंस शुरू की. देश में कहां ऐसी व्यवस्था है कि 10 से 15 मिनट में पुलिस पहुचती है. जो सपा को वोट नहीं देना चाहते हैं वो एक बार इस सड़क पर चल लें तो साइकिल का बटन दबाने को मजबूर हो जाएंगे. इसी सड़क के किनारे हम मंडी और कौशल विकास का कार्यक्रम चलाने वाले हैं. आपका पराग जो अमूल से भी पुराना है उसे हमने सुधारा है. गांव में विकास का काम हुआ है.

-कुछ दिनों में सरकार में बहुत कुछ हुआ है. जितना काम हमने बच्चों  के लिए किया है उतना शायद ही किसी ने किया. मैं रायबरेली में एक स्कूल में बच्चों से मिला. मैंने बच्चे से पूछा मैं कौन हूं? बच्चे ने कहा आप राहुल गांधी हैं.

निशाने पर मायावती

पत्थर वाली सरकार अपने काम गिनाए. पत्थरवाली सरकार टीवी पर बहुत नजर आ रही है. ये सरकार आएगी तो बड़े-बड़े हाथी लगा देगी. महाराष्ट्र सरकार ने बहुत बड़ी मूर्ति बनाई है. अगर पत्थर वाली सरकार उससे प्रभावित हो गई तो और ज्यादा काम करेगी.

मोदी पर हमला

अच्छे दिन किसे कहते हैं, इसकी परिभाषा क्या है. सीएम अच्छे दिन ढूंढ़ रहा है. कभी झाड़ू पकड़ा दी, कभी योग कराया. आपने यूपी को बर्बाद करने की बहुत कोशिश की. हम समाजवादी लोग अपने रास्ते से नहीं हटे.

-घोषणापत्र जारी होने से पहले एसपी-कांग्रेस में गठबंधन पर सहमति बनी. अखिलेश ने कांग्रेस को 105 सीटे दीं.

यूपी में सात चरणों में चुनाव

उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च के बीच सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल और समाजवादी पार्टी के अखिलेश धड़े के बीच गठबंध के बावजूद बहुकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा. मुख्यमंत्री चेहरे को सामने न लाकर एक बार फिर बीजेपी ने पीएम मोदी के चेहरे पर दांव खेला है. इसका कितना फायदा उसे इन चुनावों में मिलेगा वह 11 मार्च को सामने आ ही जाएगा.

ये होंगे चुनावी मुद्दे

इस बार उत्तर प्रदेश चुनावों में समाजवादी पार्टी में मचे घमासान के अलावा प्रदेश की कानून व्यवस्था, सर्जिकल स्ट्राइक, नोटबंदी और विकास का मुद्दा प्रमुख रहने वाला है. जहां एक ओर बीजेपी और बसपा प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर अखिलेश सरकार को घेर रही हैं, वहीँ विपक्ष नोटबंदी के फैसले को भी चुनावी मुद्दा बना रहा है.

यूपी विधानसभा में कुल 403 सीटें हैं. 2012 के विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी ने 224 सीट जीतकर पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी. पिछले चुनावों में बसपा को 80, बीजेपी को 47, कांग्रेस को 28, रालोद को 9 और अन्य को 24 सीटें मिलीं थीं.

 




Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy