Bookmark and Share 1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
वि.स.उप चुनाव :फरार,हत्यारोपी,बना भाजपा का मुखैाटा

   वि.स.उप चुनाव :फरार,हत्यारोपी,बना भाजपा का मुखैाटा

भोपाल। देवास विधान सभा उपचुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा ने अपने चुनावी बैनर पोस्टर में हत्या के फरार अरोपी को प्रमुखता से स्थान दिया है। देवास के पूर्व विधायक मंत्री स्व.तुकोजीराव पवार की पत्नी गायत्री राजे को उम्मीदवार बनाया है। इनके पुत्र विक्रम राव पवार पर हत्या का आरोप है और वह पुलिस रिकार्ड में फरार है। जिसकी चर्चा राजनीतिक क्षेत्र में चटखारे लेकर की जा रही है। नैतिकता और साफ सुथरी छवि की दुहाई देने वाले भाजपाईयों ने हत्यारोपी को श्रीमंत महाराज साहब के नाम से महिमा मंडित कर संविंधान की भी धज्जियॉ उधेड़ दी है।      

वहीं दूसरी ओर देवास विधान सभा उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी द्वारा क्षेत्र में जगह-जगह लगाये गये बैनर पोस्टर जिसमें अपने पूर्वजों को महिमा मंडित करते हुए भेाले-भाले मतदाताओं को भावनात्मक रूप से जोडऩे का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है इसकी शिकायत सामाजिक कार्यकर्ता सुश्री प्रेमदया पवार ने कलेक्टर देवास ,निर्वाचन आयोग सहित संबंधितों एवं उच्च न्यायालय रजिस्ट्रार को भी करते हुए इसे रोकने की मांग की है। शिकायतकर्ता ने भाजपा प्रत्याशी गायत्री तुकोजी राव पवार के पार्टी ने जो पोस्टर बैनर लगाये है उनमें उनके दिवंगत पति तुकोजीराव पवार को श्रद्धेय महाराजा एवं पुत्र विक्रम सिंह पवार को श्रीमंत महाराज साहब उल्ल्ेखित किया गया है। ज्ञापन में कहा गया है कि देश आजाद होने के बाद छोटी-छोटी रियासतों को समाप्त कर स्वतंत्र भारत का निर्माण हुआ है एवं राजा महाराजाओं ,नबावों की पदवियॉ समाप्त कर दी गई है। चूॅकि पूर्व विधायक एवं मंत्री स्व. जुकोजीराव पवार एवं उनके पुत्र विक्रम पवार का जन्म भी आजादी के कई वर्षो बाद स्वतंत्र भारत में हुआ है,इस दृष्टि से भी संवैधानिक अधिकारों का हनन हैतथा असंवैधानिक कृत्य है। इन्होंने देवास रियासत पर कभी भी राज पाट नहीं किया है । फिर भी महाराजा,श्रीमंत जैसी उपमाओं से भवनात्मक दृष्टि से छलपूर्वक मतदाताओं को प्रभावित किया जा रहा है। याचिकाकर्ता ने संवैधानिक संस्थाओं से इस अनैतिक कृत्य पर रोक लगाने की गुहार लगाई है। उल्ल्ेाख्ननीय है भाजपा पोस्टर बैनर में भाजपा प्रत्याशी गायत्री पवार के पुत्र विक्रम सिंह पुलिस रिकार्ड में हत्या के आरोप में फरार चल रहे है। जीरो टॉलरेंस,भ्रष्टाचार एवं अपराध मुक्त प्रदेश की जोरदार बकालत करने वाली सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा का असली मुखौटा देवास उपचुनाव में खुलकर सामने आ गया है। फरार हत्या का आरोपी चुनाव की पूरी कमान अपने हाथ में संभाले हुए है । और संघ भाजपा के राष्ट्रीय तथा प्रादेशिक नेता उसके साथ चुनावी रणनीति बनाने में मशगूल हंै, वहीं जिले के पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारी आगे पीछे घूमते हुए मिल जायेंगें। 


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy