Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
24 घंटे निगरानी में है राजनीतिक बिरादरी: पीएम

नई दिल्ली - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यायपालिका द्वारा खुद की निगरानी के लिए एक अंतर्निहित प्रणाली होने की वकालत करते हुए रविवार को कहा कि राजनीतिक वर्ग पर मीडिया तथा अनेक अन्य संस्थानों की लगातार नजर बनी हुई है। प्रधानमंत्री ने हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीशों और मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जो खबर पहले गपशप के स्तंभ में भी जगह नहीं पाती थी,  वह अब ब्रेकिंग न्यूज बन गई है। मैं उस बिरदारी से आता हूं जिस पर 24 घंटे नजरें रहती हैं।

उन्होंने कहा कि हम नेताओं को हर पांच साल बाद जनता को जवाब देना होता है। प्रधानमंत्री ने चुनाव आयोग, आरटीआई और लोकपाल जैसी संस्थाओं को गिनाते हुए इन्हें राजनीतिक वर्ग पर नजर रखने वाला बताया और कहा कि हम जिस समुदाय से आते हैं उसकी काफी बुराई होती है। उस बिरादरी में होने के बावजूद हमने खुद पर कुछ नियंत्रण किये हैं।

उन्होंने कहा कि कोई आदमी कितना अच्छा हो सकता है। अगर संस्थागत नेटवर्क सही नहीं है तो,  स्तर कम होने की आशंका है। माता-पिता घरों में पैसा ताले-चाबी में रखते हैं। चोर तो पूरा बक्सा भी उठाकर ले जा सकते हैं। माता-पिता ऐसा इसलिए करते हैं कि बच्चों की आदत नहीं बिगड़े। हमारे लिए भी यह जरूरी है।


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy