Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
बच्चों के लिए माँ का दूध सर्वोत्तम आहार: श्रीमती रंजना बघेल

बच्चों के लिए माँ का दूध सर्वोत्तम आहार: श्रीमती रंजना बघेल
भोपाल/ एक से सात अगस्त तक चलने वाले विश्व स्तनपान सप्ताह पर अपने संदेश में महिला-बाल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती रंजना बघेल ने कहा है कि माँ का दूध सर्वोत्तम आहार होने के साथ बच्चों को अनेक घातक बीमारियों से भी बचाता है। माँ का दूध बच्चों को कुपोषण से भी बचाता है। उन्होंने बताया कि आँगनवाड़ी केन्द्रों पर होने वाले मंगल दिवस में भी गर्भवती माताओं को शिशु स्तनपान के महत्व की जानकारी दी जाती है। उन्हें यह भी बताया जाता है कि बच्चे के लिये माँ का दूध सम्पूर्ण एवं सर्वश्रेष्ठ आहार क्यों है।
श्रीमती रंजना बघेल के अनुसार माँ के दूध में मौजूद पौष्टिक तत्वों तथा प्रतिरोधक क्षमताओं की जानकारी हरेक व्यक्ति को होनी चाहिये। ऐसे में स्तनपान सप्ताह जैसे आयोजन की आवश्यकता नहीं रह जायेगी। उन्होंने कहा कि जन्म से छ: माह तक बच्चे को केवल माँ का दूध दिया जाना चाहिये, जिसे दो साल तक जारी रखना बच्चे के लिये अधिक सुरक्षित रहता है। उसे कोई संक्रमण नहीं होता। माँ के दूध में मौजूद कोलेस्ट्रम बच्चे की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। श्रीमती बघेल ने अभिभावकों से अपील की है कि वे नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें।


Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy