Bookmark and Share डिजिटल भुगतान से वैश्यावृत्ति के व्यापार में कमी के आंकड़ों से बौखलाये ,मोदी के दूत रविशंकर प्रसाद                मंत्री है या भ्रष्टाचारियों के दलाल                 मोदी के राज में पत्रकारों की आवाज की जा रही बंद, फिर भी चाटुकार बजा रहे बीन                एस्सार समूह ने केंद्रीय मंत्रियों और अंबानी बंधुओं के फोन टैप कराए                1500 करोड़ का घोटाला, राजभवन ने नहीं की कार्यवाही                फर्जी डाक्टरों का सरगना डॉ.अभिमन्यु सिंह                मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं भ्रष्टाचारियों के सरगना कहिए !                पद़माकर त्रिपाठी को डॉ. नही सफेद एप्रिन का गिद्ध कहिए !                    
यूपी में विकास के लिए बदलाव जरूरी: सोनिया





कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तर प्रदेश के पिछड़ेपन के लिए गैर कांग्रेसी सरकारों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि अब प्रदेश की तस्वीर बदलने का वक्त आ गया है.

 मुरादाबाद में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए सोनिया ने कहा, 'पिछले दो दशक से ज्यादा समय से समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने यहां हुकूमत चलाई. इस दौरान इन्होंने जात-पात की राजनीति करके प्रदेश को बदहाली के कगार पर पहुंचा दिया.'

सोनिया ने कहा, 'इन दलों का विकास से कोई लेना-देना नहीं था. ऐसे में इनके सत्ता में रहते उत्तर प्रदेश के विकास की उम्मीद नहीं की जा सकती.' उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास और प्रगति के लिए कांग्रेस को लाना जरूरी है, क्योंकि यह हर जाति और वर्ग की पार्टी है तथा सेवा और विकास का इसका सुनहरा इतिहास रहा है.

बसपा प्रमुख मायावती पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'विकास के लिए उत्तर प्रदेश में बदलाव जरूरी है. अब 'मायाजाल' को काटने वक्त आ गया है.'

मुख्यमंत्री मायावती द्वारा कांग्रेस-नीत केंद्र सरकार पर लगाए गए भेदभाव के आरोपों का जवाब देते हुए सोनिया ने कहा, 'संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार देश के हर राज्य को एक नजर से देखती है और वह नीतियां एवं योजनाएं लागू करते समय कभी यह नहीं देखती कि किस राज्य में किस राजनीतिक दल की सरकार है.'





Email (With coma separated ) :
You can Advertisment here
संपर्क करें      मेम्बेर्स      आपके सुझाव      हमारे बारे मे     अन्य प्रकाशन
Copyright © 2009-14 Swarajya News, Bhopal. Service and Private Policy